शायरी – कोई दवा नहीं बस उम्रभर मर्ज देती है

shayari latest shayari new

कोई दवा नहीं बस उम्रभर मर्ज देती है
क्या खबर थी जिंदगी इतना दर्द देती है

जितनी बार प्यार की तलाश करता हूं
दुनिया हमेशा मासूम खुदगर्ज देती है

आंखों में जमे आंसू तो बाहर न निकले
इश्क इस दिल को मौसम सर्द देती है

मोहब्बत में बेवफाई लाजिमी है जहां
घर की रिश्तेदारी रोज नया फर्ज देती है

©rajeevsingh        शायरी

shayari green pre shayari green next

Save

About these ads

Top shayari site on love relationship, love shayari, hindi shayari, sad shayari, image shayari and love story for true lovers.