शायरी – टूटने से जब दिल को तसल्ली न मिली

love shayari hindi shayari

इश्क के रूह पे इल्जाम हम ले के चले
एक तन्हा सा जो अंजाम हम ले के चले

टूटने से जब दिल को तसल्ली न मिली
जिंदगी से भी इंतकाम हम ले के चले

मंजिले छूट गई मेरा ही पीछा करते
ऐसे कितने ही मुकाम हम ले के चले

तुम भी शायद कभी ये इकरार करो
कि तेरे इतने एहसान हम ले के चले

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari