शायरी – दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके

love shayari hindi shayari

दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके
आह निकली है बड़ी देर से सजदा करके

दीद तेरी ही हुई थी, हिज्र तुमसे ही मिले
इश्क तो रह गया है मौत का नगमा बनके

शमा, मेरे हाल पे मेरे तू नाराज न हो
तू देख खामोशी से एक परवाना जलते

मौत जब आ ही गई तो गिला क्या करें
जिंदा रहते तो तेरे गम को सदमा कहते

सजदा- इबादत, सिर झुकाना
दीद- दर्शन, to see
हिज्र- जुदाई

©RajeevSingh #love shayari

One thought on “शायरी – दर्द टूटा है बड़ी जोर से आहें भरके”

Comments are closed.