दीवाना शायरी

शायरी – खामोशियों के रिश्ते निभाना मुझे आता है

खामोशियों के रिश्ते निभाना मुझे आता है हर दर्द से इस दिल को लगाना मुझे आता है जो तुम हँसो हँसता हूँ, अगर रो दो तो रोता हूँ जो जैसा है संग उसके जीना मुझे आता है

love shyari next

खामोशियों के रिश्ते निभाना मुझे आता है
हर दर्द से इस दिल को लगाना मुझे आता है

जो तुम हँसो हँसता हूँ, अगर रो दो तो रोता हूँ
जो जैसा है संग उसके जीना मुझे आता है

बंजर सी जमीं पर ही कबसे जी रहा हूँ मैं
इस रेत से अपना घर बनाना मुझे आता है

दुनिया में मुहब्बत का कतरा न मिला हमको
अब दुख भरे गीतों को गाना मुझे आता है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements
Advertisements