शायरी – जिसके दिल में सच्चा शख्स देखा है

new prev new next

जिसके दिल में सच्चा शख्स देखा है
खुदा ने उसी में अपना अक्स देखा है

उसका साया मेरी आंखों से जाता नहीं
हर जगह बस उसी का नक्श देखा है

जिसने जिंदगी में गमों को गले लगाया
उसको हर हाल में रहते मस्त देखा है

शम्मा को हासिल करने की कोशिश में
जमाने में जलते परवानों का रक्स देखा है

रक्स – डांस

©RajeevSingh

2 thoughts on “शायरी – जिसके दिल में सच्चा शख्स देखा है”

Comments are closed.