शायरी – तेरी यादों में जलता रहा आज देर रात तक

new prev new shayari pic

तेरी यादों में जलता रहा आज देर रात तक
ये दिल खाक बनता रहा आज देर रात तक

तेरे ख्यालों की तेज आंधियों के थपेड़ों से
गश खाकर गिरता रहा आज देर रात तक

भीगा सा अहसास था लेकिन नहीं थी खबर
आखों से कुछ गिरता रहा आज देर रात तक

दामन में समेटता रहा अपने वजूद के टुकड़े
आईने सा मैं टूटता रहा आज देर रात तक

©राजीव सिंह शायरी

Advertisements