बेस्ट ईमेज शायरी

ईमेज शायरी – तू अलग हुई पर तुमसे अलग न हो सका

एक जज्बाती नदी सागर से बिछड़ चुकी मेरा वजूद बह गया और बच गई तन्हाइयां तू अलग हुई पर तुमसे अलग न हो सका कहां जाएंगे लेकर अब तुमसे दूर जुदाइयां

red prev shayari pic red next shayari image

मेरा वजूद फोटो शायरी
एक जज्बाती नदी सागर से बिछड़ चुकी
मेरा वजूद बह गया और बच गई तन्हाइयां

Advertisements
Advertisements