शायरी ईमेज – इश्क का सागर सदियों से बेवफा से परेशां है

red prev shayari pic red next shayari image

फूल और कांटा शायरी ईमेज
फूलों की बस्ती में इन कांटों का क्या काम था
ऐ खुदा, तेरे गुलशन में चलना नहीं आसां है
Advertisements