Category Archives: रोमांटिक शायरी

दर्द कम न हो कभी इस दिल में

#100 दर्द शायरी

दो चिरागों को आग मिल जाए

दो दीवानों की आंख मिल जाए

 

हुस्न और इश्क पास बैठे हों

कोई तो ऐसी शाम मिल जाए

 

दोनों रूहों का कुदरती रिश्ता

काश दोनों को खबर मिल जाए

 

दर्द कम न हो कभी इस दिल में

चांद को भी तो दाग मिल जाए

  1. दिल की ये आहें तेरे नाम कर दी
  2. वो जो तन्हा सा, परेशां सा है
About these ads