Category Archives: shayari image

वहीं मिल जाएगी एक दरिया उसे रोती हुई

अभी बरसात है, कभी रूकती कभी गिरती हुई

और एक शाम है भीगी हुई सी ढलती हुई

 

कौन जाने कि ये घटाएँ कहाँ तक जाएँगी

जाने किस मोड़ पे बेवफा होगी हवा चलती हुई

 

जिस जगह कोई तलाशेगा वज़ूद अपना

वहीं मिल जाएगी एक दरिया उसे रोती हुई

 

ये फलक़ कितने मुसाफिरों का आशियाना है

फिर भी चिंगारियाँ हैं उसके दामन में जलती हुई

About these ads