जिसने मुझे जीना सिखाया वो शादीशुदा है, जिससे मेरी शादी हो रही वो धोखेबाज – आकांक्षा की लव स्टोरी

मैं आकांक्षा हूं। अकाउंट डिपार्टमेंट में जॉब करती हूं। बहुत गरीब परिवार से हूं। स्कूल में जब पढ़ती थी तब मेरा एक ब्वॉयफ्रेंड बना जो अब तक सिर्फ पांचवीं तक पढ़ा है और कुछ काम भी नहीं करता है। उसने मुझे कई बार दूसरी लड़कियों के लिए छोड़ा पर हमेशा गिड़गिड़ा कर, रोकर मुझे मना लेता था। एक बार मैंने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया तो उससे ब्रेकअप कर लिया।

कहते हैं कि सबकी लाइफ में एक ऐसा इंसान आता है जो उसकी दुनिया बदल जाता है। मैं ऑफिस में समीर से मिली। वो शादीशुदा है। एक बेटी भी है उसकी। बहुत अच्छा इंसान है। वो अपनी बीवी से बहुत परेशान है। तलाक की बात करता है तो बीवी उसे सुसाइड और बेटी की हत्या कर फंसाने की धमकी देती है। इस वजह से उसकी लाइफ बर्बाद है। यह सब जानकर भी हम दोनों एक दूसरे क्लोज आ गए और प्यार हो गया।

akanksha love story

मेरे पापा ने मुझे कभी सपोर्ट नहीं किया। मैंने अपनी पढ़ाई भी खुद कमाकर की। मैंने काफी संघर्ष के बाद नौकरी पाई। ऑफिस में समीर का प्यार पाकर मेरी लाइफ खुशियों से भर गई। उसने मेरे लिए इतना किया जो एक पिता या पति भी नहीं कर सकता। हर चीज में मेरी मदद की। कभी झूठ नहीं बोला और न ही किसी चीज का लालच किया।

अब पिछले एक साल से मेरी फैमिली मुझपर शादी का दबाव डाल रही थी। मैंने समीर से बात की। उसने कहा कि हमारी शादी नहीं हो पाएगी। खैर, उसकी भी कोई गलती नहीं, हम दोनों को सबकुछ पहले से पता है। इस बीच मेरा पांचवीं पास एक्स ब्वॉयफ्रेंड अपनी फैमिली को लेकर मेरे घर शादी की बात करने आ गया और मेरी फैमिली ने भी हां कर दी।

उस पांचवीं पास से मेरी शादी होनेवाली है। मैं घर में मना नहीं कर पाई। फैमिली का फैसला मानने के लिए मजबूर हूं और मुझे ये शादी करनी पड़ेगी। अब मैं यह सोच नहीं पा रही है कि समीर का साथ मैं कैसे छोड़ूं जिसने मुझे जीना सिखाया, मेरा इतना साथ दिया, मेरे लिए इतना कुछ किया। मैं उसकी लाइफ से गई तो वो टूट जाएगा क्योंकि पहले से वो बहुत टेंशन में रहता है और उसको हार्ट की भी बीमारी है। अगर मैं समीर का साथ नहीं छोड़ती तो जिससे शादी होगी, उसके साथ धोखा होगा जो मैं नहीं चाहती। मैं बहुत परेशानी में फंस गई हूं। बताइए इस सिचुएशन में क्या करूं?

Advertisements

जिससे प्यार किया उसने शादी नहीं की, जिससे शादी की वो लड़ाई करती है

मैं बैंगलौर से विशाल हूं। मैं इस पेज से जुड़ा हूं। मैं एक लड़की से बहुत प्यार करता था। उसका नाम अनु था। अनु के साथ मेरा रिश्ता सात आठ सालों तक चला। उससे शादी करने के लिए कहा तो उसने बहाना बनाना शुरू कर दिया कि कॉलेज की पढ़ाई पूरी होगी तब शादी करूंगी। पढ़ाई पूरी हुई तो उसने नया बहाना बना दिया। इधर मेरी मां की तबियत बहुत ज्यादा खराब होती जा रही थी।

मां को घर का काम करने में दिक्कत होती थी तो उन्होंने मुझसे पूछा कि बेटा हम तुम्हारी शादी कर दे रहे हैं, कोई लड़की पसंद हो तो बता दो। मैंने मां को उस लड़की के बारे में बताया तो इसके बाद मेरे पापा ने उससे शादी करने से मना कर दिया। वो बोले कि बेटा तुम गलत कर रहे हो, तुम्हारी शादी वहीं होगी जहां हम करेंगे।

vishal story

पापा ने मेरी शादी किसी और से तय कर दी। जब शादी तय हो रही थी तो अनु ने मना किया कि शादी मत करो लेकिन वो खुद भी उस वक्त शादी के लिए तैयार नहीं थी और इंतजार करने के लिए कह रही थी। मैं कुछ नहीं कर सका। मेरी शादी हो गई तो अनु ने मुझसे बात करनी बंद कर दी। शादी को एक साल हो चुके हैं और अनु भी मुझसे बात नहीं करती, उधर बीवी मुझसे बहुत झगड़ा करती है। समझ नहीं आता कि जीऊं कि मरूं?

छोटी छोटी बातों को लेकर बीवी झगड़ा करती रहती है। ऐसा कोई दिन नहीं जिस दिन लड़ाई न होती हो। मुझे बहुत गुस्सा आता है मगर मैं कुछ नहीं कर सकता। मैं बीवी को बहुत समझाने की कोशिश करता हूं मगर वो नहीं मानती। मैंने मम्मी पापा की देखरेख के लिए उससे शादी की थी लेकिन वो उनलोगों के पास भी नहीं रही। वहां भी झगड़ा करती रही। मैं जहां रहता हूं वहीं जाने की जिद करती थी तो मैं बहुत परेशान हो गया।

जिनलोगों की खुशी के लिए इससे शादी की थी, उनके साथ रहने को तैयार नहीं। मां पापा ने कहा कि बेटा तू इसे अपने साथ ले जा, ये साथ रहेगी तो खुश रहेगी। मां पापा की बात मानकर उसे साथ ले आया मगर यहां भी वो नहीं बदली। मेरी जिंदगी तबाह हो चुकी है और बहुत उलझ गई है। अगर मैं अनु से शादी कर लेता तो मेरी लाइफ बहुत अच्छी होती, मैं उससे बहुत प्यार करता था। पता नहीं क्या हुआ, उसने मुझसे शादी ही नहीं की और मेरी जिंदगी किसी और से शादी करके बर्बाद हो गई। मैं क्या करूं?

मेरी सहेली से उसने फ्लर्ट किया तो क्या मैंने ब्रेकअप करके ठीक किया? दिव्या की लव स्टोरी

मैं दिव्या हूं। अपनी लाइफ को लेकर बहुत ज्यादा कंफ्यूज्ड हो गई हूं। मेरे घर में पापा और बाकी सभी लोग काफी स्ट्रिक्ट हैं। बचपन से मां पापा दूसरों से मेरी तुलना करते रहे और मैंने इस वजह से काफी परेशानी झेली। दो साल पहले की बात है। कॉलेज का एक लड़का लाइफ में आया। मैं खुश थी लेकिन मुझे पता नहीं था कि वो सीरियस था या टाइमपास कर रहा था इसलिए मैंने पहले उसकी बातों पर कम ध्यान दिया। दो महीने तक वो रिलेशनशिप के लिए हां कहने के लिए मुझे मनाता रहा।

जब भी उससे बात करती थी तो डर लगता था कि कहीं पैरेंट्स को पता न लग जाए। मैंने उससे कहा भी कि मुझे रिलेशनशिप नहीं चाहिए क्योंकि इसका कोई फ्यूचर नहीं है। मैं भी उससे प्यार करती थी। वो मेरे पीछे पड़ा रहा तो मैंने बाद में उसे रिलेशनशिप के लिए हां कर दिया और उससे बात करती थी।

divya love story

मैंने उसके बारे में एक फ्रेंड को बताया। मेरी फ्रेंड ने उस लड़के को फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा तो उसने एक्सेप्ट किया और उसके बाद वो लड़का मेरी फ्रेंड के पीछे पड़ गया। उसे मिलने के लिए बुलाने लगा। मेरी फ्रेंड ने मुझे बताया कि तेरा बीएफ मुझसे फ्लर्ट करता है। यह सुनकर मुझे काफी दुख हुआ।

मैंने उस लड़के से ब्रेकअप कर लिया। मैंने तो कभी किसी और लड़के से बात भी नहीं की उसके अलावा, उसको ऐसा नहीं करना चाहिए था। उस लड़के ने मुझे बहुत सॉरी कहा। उसने कहा कि बस फ्लर्ट ही तो किया था, कोई आई लव यू तो नहीं बोला था। उसने मुझे बहुत मनाया लेकिन मुझे उसकी हरकत ठीक नहीं लगी और मैंने ब्रेकअप कर लिया।

इस बात को छह महीने बीत चुके हैं। मेरे और उसके बीच बात बंद है लेकिन 24 घंटे मेरा दिमाग उसी के बारे में सोचता रहता है। उसके बारे में सबकुछ याद करती रहती हूं। मुझे पता चला है कि उसकी कोई और गर्लफ्रेंड भी है। यह जानकर मैं और भी टूट चुकी हूं।

समझ में नहीं आ रहा कि क्या करूं? किसी और लड़के से बात करने का भी दिल नहीं करता। फ्रेंड्स, क्या मैंने उससे ब्रेकअप करके ठीक किया? वो अब सेटल्ड है और मैं प्रफेशनल कोर्स कर रही हूं लेकिन वो मेरे दिमाग से निकलता ही नहीं। मैंने उससे ब्रेकअप करके ठीक किया है न? प्लीज बताइए, मैंने ठीक किया या नहीं?

पेज एडमिन की राय
दिव्या अपनी जिंदगी में ब्वॉयफ्रेंड चाहती है। जिंदगी में कोई लड़का चाहती है जिससे वो बात करे, अपनी बातें शेयर करे। प्यार करे। यह एक नेचुरल इंस्टिंक्ट है लेकिन उसका परिवार सख्त है। फिर भी डरकर ही सही, वह किसी से रिश्ता रखना चाहती है।

आज लड़के-लड़कियों के मन में द्वंद, संघर्ष और अवसाद (कॉन्फ्लिक्ट, डिप्रेशन) बहुत ज्यादा बढ़े हैं क्योंकि घर की इच्छा और अपनी इच्छा के बीच वो तालमेल नहीं बिठा पा रहे। दिव्या जानती है कि किसी ब्वॉयफ्रेंड से रिश्ते का कोई फ्यूचर नहीं है फिर भी वो लाइफ में ब्वॉयफ्रेंड चाहती है। घरवालों की इच्छा और अपने अंदर की चाहत के बीच वो संघर्ष झेल रही है। इस वजह से मानसिक परेशानियां बहुत ज्यादा हैं।

दिव्या ने उस लड़के से ब्रेकअप करके सही फैसला लिया क्योंकि वो दूसरों से फ्लर्ट करता है, वफादार भी नहीं है लेकिन फिर भी वो उसे मिस कर रही है। इसके पीछे प्रॉब्लम ये होती है कि हम किसी के बारे में इतना कुछ सोच चुके होते हैं कि फिर कदम पीछे हटाने पर मन अपने ही फैसले का विरोध करता है। ऐसे सिचुएशन में अगर इंसान का सेल्फ मजबूत न हो तो उसे अपने सही फैसले भी गलत लगते हैं।

उसने प्यार में मेरे साथ ऐसा धोखा किया कि मैंने प्यार करना ही छोड़ दिया…सिम्मी की लव स्टोरी

मैं सिम्मी हूं। मैंने अपनी लाइफ में जिसे सबसे ज्यादा प्यार किया उसने मुझे इतने धोखे दिए कि अब मैं किसी के भी प्यार पर यकीन नहीं कर पाती हूं। मैं जिससे प्यार करती थी वो फाइनांस मैनेजर है। उसने मेरे ही ऑफिस में 2012 में ज्वाइन किया। मैं अकाउंट्स डिपार्टमेंट में जाती तो वो मुझे देखता रहता और जब मैं उसकी तरफ देखती तो वो काम करने का बहाना बनाने लगता।

उसने मुझसे बात करते-करते पहले मेरी जिंदगी के राज जाने, मेरे बारे में जाना और फिर मेरा हमदर्द बन गया। अब हम रोज मिलते थे, बातें भी खूब करते थे। वो पहले से शादीशुदा था, उसने ये बात छुपाई थी। मैं उससे बहुत प्यार करने लगी थी। फिर मुझे किसी से पता चला कि उसकी शादी हो चुकी है और उसके दो बेटे भी हैं। मैं बहुत रोई, बहुत ज्यादा। मैं तीन दिन तक ऑफिस भी नहीं गई। उसको कॉल भी नहीं किया।

simmi love story

उसी ने मेरे घर की लैंडलाइन पर फोन किया। सच कहूं तो मैं नहीं चाहती थी कि मैं किसी भी लड़की की जिंदगी खराब करूं। मैंने उससे बात नहीं की। फिर अगले दिन ऑफिस गई तो वो मेरे डिपार्टमेंट में आया और कहा कि उसकी शादी और बच्चे की बातें झूठ हैं। लेकिन वो अब भी झूठ बोल रहा था। कई दिन तक मैंने उससे बात नहीं की। मैं बहुत हर्ट हुई थी। मुझे ब्रेन ट्यूमर है, ये बात जब उसे पता चली तो वो मुझे अपने साथ जबर्दस्ती अपनी कार में घर ले गया।

घर में उसने अपनी वाइफ को बताया कि वो मुझसे बहुत प्यार करता है और मैं ये सब सुनकर बहुत ही हैरान थी कि ये क्या कर रहा है? उसकी बीवी ने मुझसे बात की और कहा कि देखो तुम मेरे पति से बात करना मत छोड़ो, ये सारी रात तुम्हारे लिए रोते रहते हैं। मैं नहीं समझ पाई कि आगे क्या करूं? मैं वहां से कैब करके अपने घर आ गई।

कई दिनों बाद उससे मेरी बात फिर होने लगी और एक दिन कुछ ऐसा हुआ कि मुझे बहुत सदमा लगा। मैंने उस दिन कॉल किया तो उसने बताया कि उसकी तबियत खराब है तो मैंने कहा कि घर पर हो तो मैं तुमको देखने आ जाती हूं। उसने मना कर दिया और कहा कि उसकी वाइफ के अंकल आ रहे हैं। मुझे लगा कि उसके साथ कुछ गड़बड़ है जो वो छुपा रहा है। मैं उसके घर चली गई तो वहां देखा कि वो किसी और लड़की के साथ था।

ये वो लड़की थी जिसके बारे में कहता था कि वो मेरे दोस्त की गर्लफ्रेंड है। जब मैं वहां पहुंची तो लड़की ने मुझसे पूछा कि क्यों आई हो? मैंने भी पलटकर यही सवाल किया तो उसने कहा कि वो उसकी गर्लफ्रेंड है और पिछले चार साल से दोनों का रिश्ता चल रहा है। अब मैं क्या करूं, बस यही सोच रही थी। तभी वो सामने आकर मुझे समझाने की कोशिश करने लगा। मैं बस चुपचाप खड़ी रही रही। उसी समय उस लड़की ने उससे पूछा कि तुम किससे प्यार करते हो, तो कहने लगा कि सिमी से…यही मैंने अपनी लव स्टोरी को खत्म कर दिया। उससे रिश्ता तोड़ लिया। वह मेरी पहली और आखिरी लव स्टोरी थी….

original shayari and real love stories