Tag Archives: तजरबा शायरी

शायरी – तेरा दिल मेरा आशना तो हो

love shayari hindi shayari


राज ए उल्फत का तजरबा तो हो
तेरा दिल मेरा आशना तो हो

चांद निकलेगा रोज मेरे घर में
हुस्न जैसा कोई आईना तो हो

कितने पानी में हैं, हम नापेंगे
आंसुओं से मेरा सामना तो हो

मेरी तन्हाई की रौनक बढ़ जाएगी
उनको आने की तमन्ना तो हो

राज ए उल्फत – मोहब्बत के राज
आशना – यार, परिचित


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

शायरी- खामोशियों को जो पढ़ता नहीं है

love shayari hindi shayari


कहने से कोई समझता नहीं है
जब तक तजरबा होता नहीं है

बातें ही करता रहता है अक्सर
खामोशियों को जो पढ़ता नहीं है

ठोकर वो खा ले मगर राहों से
पत्थर कभी भी हटाता नहीं है

दुनिया में मरने से बचने के खातिर
दिल को वो जिंदा रखता नहीं है


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – हम तो अब तक तुझे सीने से लगा न सके

new prev new next

दर्द की रात थोड़ी सी अभी बाकी है
रोने की रात थोड़ी सी अभी बाकी है

तेरे कूचे ने तेरे दीदार को तरसाया है
इश्क में ये कसर थोड़ी सी अभी बाकी है

हम अब तक तुझे सीने से लगा न सके
बस ये तकलीफ थोड़ी सी अभी बाकी है

कोई तजरबा न मिला है मुझे जीवन से
टूटने की घड़ी थोड़ी सी अभी बाकी है

©RajeevSingh

शायरी – तन्हा ही रहने ही आदत है हमको

love shayari hindi shayari

तन्हा ही रहने की आदत है हमको तो लोगों से मिलके क्या करें
अपनी खबर जब हमको नहीं है तो किसके बारे में क्या कहें

 जब थे चले हम अपने सफर पे कोशिश तो की थी मिलने की सबसे
लेकिन हमें तब तज़रबा हुआ था कि इन बेवफाओं से क्या मिलें

देखा है जबसे नंगी हकीकत कपड़े पहनने कम कर दिए हैं
जरुरत है आखिर में एक कफन की तो जिस्म सजाके क्या करें

फक़ीरों के जैसा ही जीना मुनासिब, दिल की सोहबत में मरना अच्छा
लगता है वाज़िब तन्हा ही जीना तो दुनिया में जाके क्या जीएं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

शायरी – एक दिन दिल तोड़ता है वो शख्स मुस्कुराकर

prevnext

आजमा कर देखिए हर शख्स को दुनिया में
वो पहले वफा दिखाते हैं, फिर दगा करते हैं

वफा करते हैं ताकि ऐतबार वो पा ले आपका
फिर बेवफाई का फर्ज वो अदा करते हैं

वो अपना काम निकालते हैं कुछ इस हुनर से
कि आप धोखे खाकर भी उनसे मिला करते हैं

आपकी जान कब वो लेगा, ये खबर नहीं आपको
और आप उनकी सलामती की दुआ करते हैं

एक दिन दिल तोड़ता है वो शख्स मुस्कुराकर
रो-रो के तब खुद ही से आप गिला करते हैं

होता है तज़रबा ऐसा कि दुनिया की राह पे
आदमी से बच-बच कर आप चला करते हैं

परायों को तो खैर आप दुश्मन समझते ही हैं
अपनों से भी डर-डर कर रहा करते हैं

कोसते रहते हैं अपनी जिंदगी को उम्रभर
भीड़ में हंसते हैं मगर तन्हाई में रोया करते हैं

©RajeevSingh #love shayari

शायरी – बेरहम याद भी मेरी रातों का सहारा ही बना

love shayari hindi shayari

बेरहम याद भी मेरी रातों का सहारा ही बना
ये तेरा दर्द भी मेरी आंखों का सितारा ही बना

इश्क की बात पे हम अड़ गए जान देने पर
फिर भी दिलबर किसी गैर का खिलौना ही बना

चल रहे थे वहां पे आंधियां फिजाओं में
ये तबाही भी बहारों का तमाशा ही बना

क्या कहूं मैं कि कहने का ये तजरबा है
मेरी हर बात पे दुनिया में फसाना ही बना

©RajeevSingh #love shayari