शायरी – हमें जमाने की राह पे चलना नहीं आया

हम बनी-बनाई सड़क पे नहीं चलते हैं

इसलिए जमाने में हमको चलना नहीं आया

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.