शायरी – उस वक्त तुमपे गुस्सा आता था

जब तक तू सादगी में रहती थी

तब तक दिल से हसीन लगती थी

उस वक्त तुमपे गुस्सा आता था

औरों की तरह जब तू सँवरती थी

Advertisements

Leave a Reply