4 लाइन शायरी 4 line shayari

शायरी – तेरे लिए कई बरस रोकर गुजारी

तेरे लिए कई बरस रोकर गुजारी

अब तो आँखें भी थककर हारी

दर्द इस कदर उदास है रूख पे

आईने में दिखी न मुस्कान हमारी

Advertisements

Leave a Reply