शायरी – खुदा के बदले लबों ने तेरा नाम लिया

सज्दे के वक्त हमने ये गुनाह किया

खुदा के बदले लबों ने तेरा नाम लिया

Advertisements

2 thoughts on “शायरी – खुदा के बदले लबों ने तेरा नाम लिया”

  1. एहसास के दाभन पर आँसु गिरा के देखो प्यार कितना सच्चा है अजमा के देखोँ 1

  2. मैँ तुम्हे चाहता लेकिन कह नही पाता । तेरी तसबीर मेरे दिल है चीर के दिखा नही सकता ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.