शायरी – प्यास दिल में और आंखों में आँसू की दरिया

प्यास दिल में और आंखों में आँसू की दरिया

आशिकी का जिस्म पर होता है ऐसा असर

कोई तालीम न सिखाएगा तुझे मुहब्बत का हुनर

इश्क तो जख्म है, जो हुस्न से पाता है जिगर

Advertisements

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.