शायरी – कुछ इस तरह से दर्द भी मेरे सीने में उठा करे

love shyari next

मेरे जीने की ये आरजू तेरे आने की दुआ करे
कुछ इस तरह से दर्द भी मेरे सीने में उठा करे

मैं अजीब सा एक शख्स हूं, उदास हूं, नाशाद हूं
हर आदमी इस जहां में, मुझे देखकर हंसा करे

तिनकों को जोड़-जोड़ के एक घर बनाया इस तरह
कि मैं भी इसमें रह सकूं, कोई चिड़िया भी रहा करे

अपने मजार पे सनम तेरा नाम मैं लिखवाऊंगा
तेरा नाम लेके कब्र भी सदियों तलक सदा करे

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari