शायरी – जबसे तुमसे इश्क हुआ है, कैसे निबाहूं रिश्तों को

love shyari next

आज हमने बुझा दिए हैं उन सभी चिरागों को
जिसमें हमने देखा था इस दुनिया की राहों को

अगर कहीं तुम मिल जाओगे, कर देंगे तुमको अर्पण
तेरे खातिर ही रखते हैं पलकों में कुछ अश्कों को

मेरी तन्हाई में कितनी रंजिश है तू क्या जाने
जबसे तुमसे इश्क हुआ है, कैसे निबाहूं रिश्तों को

तेरे रिवाजों में लिखा है आगे बढ़के न कहना
दीवाने भी कह न सकेंगे अपने दिल के सजदों को

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

Leave a Reply