heart touching Shayri

शायरी – कोई क्यों बनाएगा दुनिया में दर्द का रिश्ता

तेरे इश्क में हमने ऐसा ज़िगर बना लिया

रोने लगा आईना तो उसे पत्थर बना लिया

 

तू ख्वाब बनकर बसता है मेरे कदमों मे

मैंने जिंदगी में राहों को हमसफर बना लिया

 

जो थक गई हैं रातभर तुझे याद करते-करते

हमने उन आँखों को अपना दिलबर बना लिया

 

कोई क्यों बनाएगा दुनिया में दर्द का रिश्ता

जब ख़ुशी को ही सबने मुकद्दर बना लिया

Advertisements

Leave a Reply