शायरी – अपने दिल को दुनिया में तन्हा बना लूँ

इन दगाबाजों से मैं खुद को बचा लूँ

अपने दिल को दुनिया में तन्हा बना लूँ

 

रास्तों पे सब एक-दूजे को देखा कीये

पर अपनी नजर को मैं सबसे छुपा लूँ

 

कोई मिलने जो आए तो मैं न मिलूँ

हर किसी से मैं अपना दामन छुड़ा लूँ

 

देखकर ही मुझे कतरा जाए ये जमाना

ऐसे हुलिए में अपना जिस्म सजा लूँ

Advertisements

कमेंट्स यहां लिखें-

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s