दीवाना शायरी

शायरी – अपने रोते हुए दिल को समझा न सका

शायरी हम तेरे दर्द में जीकर भी परेशां न हुए घुट-घुट के मरके भी हम बेजां न हुए देख तेरे आने, तेरे जाने की कशिश हमें पलकें मूंदने कभी आसां न हुए

love shayari hindi shayari

हम तेरे दर्द में जीकर भी परेशां न हुए
घुट-घुट के मरके भी हम बेजां न हुए

देख तेरे आने, तेरे जाने की कशिश
हमें पलकें मूंदने कभी आसां न हुए

आ पिला दे हमें अपने हाथों से जहर
ये ही कर दे जब तुम मेहरबां न हुए

अपने रोते हुए दिल को समझा न सका
माफ करना हम तेरी तरह इंसां न हुए

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

Leave a Reply