शायरी – वो इश्क क्या करे जो रस्मों को निभाते हैं

love shayari hindi shayari

दुनिया के पत्थरों का ऐतबार न करो
आईने के टूटने का इंतजार न करो

वो इश्क क्या करे जो रस्मों को निभाते हैं
उस बेवफा का तूम भी दरकार न करो

जो फूल मुरझा गए दुनिया के गुलशन में
बेदर्द निगाह से उसका दीदार न करो

हौसला रख जीने का ऐ मेरे गमे-दिल
तुम यूं मौत की तमन्ना सौ बार न करो

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements