शायरी – ये दगा देने की आदत जो तेरे खून में है

love shayari hindi shayari


बेवफाई की सजा न किसी कानून में है
ये दगा देने की आदत जो तेरे खून में है

हमें जमाने में जीकर कोई खुशी न मिली
एक दीवाने का मजा इश्क के जुनून में है

मेरी खामोश सदा पे सबने ये सोचा
लिफाफा बंद है, जाने क्या मजमून में है

अगर बुरा न लगे तो मैं ये बात कहूं
ये जिंदगी तो बस इस रूह के सुकूं में है

सदा – call, पुकार


©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements