शायरी – चिरागों को बुझाकर तुम भी रोती तो होगी

love shayari hindi shayari

ये दर्द अपने दिल में तुम रखती तो होगी
चिरागों को बुझाकर तुम भी रोती तो होगी

हम यूं रहे खामोश कि तुझे कह न सके
ये आस थी फक़त तुम आवाज तो दोगी

यूं ही नहीं देखा था तूने मुझे पलकें झुकाए
कहीं न कहीं दिल में कुछ हालात तो होगी

तेरे खयालों में जीते हैं हम ये सोचकर
कुछ न सही पर दर्द की बरसात तो होगी

©RajeevSingh #love shayari