शायरी – दिल भी जाने कैसी-कैसी बातें करता रहता है

love shyari next

दिल भी जाने कैसी-कैसी बातें करता रहता है
इश्क करो, बस इश्क करो, सिर्फ यही दुहराता है

मुझको पढ़ लोगी तो तुम भी दीवानी बन जाओगी
मेरा दिल कोरे कागज पे खत में उनको लिखता है

कोई फूल बता नहीं सकता, कांटें क्यूं हैं दामन में
दिल ही दर्द से जाने क्यूं इतनी मुहब्बत करता है

रात ढ़लती है आंखों में, नींद उड़ती है तन्हा सी
इस जुदाई के पहर में दिल दीपक सा जलता है

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari