शायरी – जो प्यासा है वो प्यासा ही रहना चाहे

love shyari next

जो प्यासा है वो प्यासा ही रहना चाहे
वो सागर से नहीं, रेगिस्तां से मिलना चाहे

घर की दीवारों में कैद नहीं है रूहें
पंछियों की तरह आस्मा में उड़ना चाहे

जन्नत की उसे कोई चाहत ही नहीं
वो हमेशा कहीं तन्हाई में रहना चाहे

उसको अपने जिस्म की खबर ही नहीं
वो तो बस दर्द को दिल में रखना चाहे

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari