शायरी – रुखसत न हुआ गम तो दिल रूला बैठे

love shayari hindi shayari

लम्हों की आहटों में हर रात गुजरती है
एक चांद के साये में मेरी रूह जलती है

रुखसत न हुआ गम तो दिल रूला बैठे
रोका तो बहुत फिर भी ये आह निकलती है

तेरी आंखों में देखा था जो, वो दर्द उठा था
ये इश्क के आगाज की तस्वीर होती है

टूटा हूं मगर तुमसे मैं इस तरह जुड़ा हूं
मरता हूं मैं तेरे लिए, तू जान लेती है

©RajeevSingh #love shayari

Advertisements

Leave a Reply