शायरी – मेरे पास है बचा क्या दिल के सिवा ऐ हमदम

love shyari next

आवारगी में अपना ठिकाना कहां से लाऊं
तेरे संग रह सके वो तमन्ना कहां से लाऊं

तुझे देखने की किस्मत मिल तो गई है लेकिन
आंखों में जल सके वो शम्मा कहां से लाऊं

मेरे पास है बचा क्या दिल के सिवा ऐ हमदम
तेरे लिए खुशी का मैं गहना कहां से लाऊं

सांसों में रह गए हैं आहों के चंद कतरे
दम मेरा निकल जाए वो सदमा कहां से लाऊं

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements