आंसू शायरी आशिक शायरी

शायरी – है इश्क एक गुनाह तो ये गुनाह कर लिया

शायरी है इश्क एक गुनाह तो ये गुनाह कर लिया तेरे दर्द से इस दिल को तबाह कर लिया गम बहुत हैं जिंदगी में इसलिए जानेमन खामोशी से ही प्यार बेपनाह कर लिया

love shayari hindi shayari

है इश्क एक गुनाह तो ये गुनाह कर लिया
तेरे दर्द से इस दिल को तबाह कर लिया

गम बहुत हैं जिंदगी में इसलिए जानेमन
खामोशी से ही प्यार बेपनाह कर लिया

मेरी नजर में हर जगह तुम ही बसी हो
जर्रे-जर्रे को इस मंजर का गवाह कर लिया

गुलाब के कांटों से भी रिश्ता रहा अपना
गुलशन में रहके सबसे यूं निबाह कर लिया

©RajeevSingh # love shayari

Advertisements

Leave a Reply