शायरी – तुम जबसे दामन हमसे बचाने लगे

love shayari hindi shayari

तुम दामन जब हमसे बचाने लगे
दुनियावालों के लब मुस्कुराने लगे

खाक में मिले तो रोया इस कदर
आंसुओं को गिरने में जमाने लगे

जेब में खुदा के सिवा कुछ न रहा
फकीरों से हम नजर आने लगे

उस जगह मैं अब टिक पाता नहीं
जो तेरी याद को सुलगाने लगे

©RajeevSingh # love shayari