शायरी – तुम्हारा सामने आना मुझे बेचैन करता है

love shayari hindi shayari

तुम्हारा सामने आना मुझे बेचैन करता है
पास आकर चले जाना मुझे बेचैन करता है

तुम्हारे हुस्न की तस्वीर मेरी आंखों में है
कुछ और नजर आना मुझे बेचैन करता है

बरस के दिन तो अब काटे नहीं कटते हैं
इस रात को सहना मुझे बेचैन करता है

मेरा दिल कहता है, तुझे हर पल मैं सोचूं
इसके सिवा कुछ सोचना मुझे बेचैन करता है

©RajeevSingh # love shayari

Advertisements