शायरी – ऐ मेरे दिल ऐसे ख्वाब सजा

love shyari next

ये सिलसिला बना सा रहे
तुमको हमसे गिला सा रहे

प्यास आंखों की बुझाने के लिए
सैकड़ों जख्म हरा सा रहे

ऐ मेरे दिल ऐसे ख्वाब सजा
कि टूट जाए तो मजा सा रहे

जो मुझे अपना यार कहते हैं
उनसे कुछ दूरी बना सा रहे

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

Leave a Reply