शायरी – मुहब्बत की लाखों दुहाई देने वाले

love shyari next

मुहब्बत की लाखों दुहाई देने वाले
देखे हैं कई झूठी गवाही देने वाले

मजबूरी थी इसलिए कर सके न वफा
बस और क्या कहेंगे सफाई देने वाले

दर्द बढ़ रहा है तो और बढ़ जाने दे
दूर हट जा ऐ मुझको दवाई देने वाले

जिंदगी का दीया मुफलिसी में बुझा
तब आए मिलने दियासलाई देने वाले

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari