जख्म शायरी

शायरी – तू भी दिल से जुदा न हो जाना

लव शायरी कभी हमसे खफा न हो जाना जानेमन बेवफा न हो जाना जो याद आए मगर मिल न सके तू भी कोई खुदा न हो जाना

love shyari next

कभी हमसे खफा न हो जाना
जानेमन बेवफा न हो जाना

जो याद आए मगर मिल न सके
तू भी कोई खुदा न हो जाना

जिसे पीते ही दर्द बढ़ने लगे
जख्म की ऐसी दवा न हो जाना

तेरे सिवा क्या बचा है तन्हाई में
तू भी दिल से जुदा न हो जाना

©RajeevSingh # love shayari #share photo shayari

Advertisements

One comment

Leave a Reply