मेरी मंजिल शायरी फोटो

मेरी मंजिल शायरी ईमेज

मेरी मंजिल वहीं है जहां पर तुम ठहरी हो
हर कदम पे हम मुंतजिर रहे तेरे खातिर

Advertisements

इश्क में रोना चुप होना तो चलता ही रहता है। तुमको देने के लिए सारी हंसी अपनी खामोशी में छुपा रहा हूं। अभी तो सूरत पे गम का साया ही रहने दो।

Advertisements

Leave a Reply