दिनभर आंसुओं को शायरी फोटो

आंसुओं को शायरी ईमेज

ये उदास रात रुला जाती है वरना
दिनभर आंसुओं को पिये जाता हूं

Advertisements

चांद न होता तो तेरी सूरत किस आईने में देखता। रात को जागते हुए उदासी और तनहाई रुलाती है। तेरी तस्वीर चूमकर गुजारा करता हूं।

कमेंट्स यहां लिखें-

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s