मैं आंसू भी बहाऊं कैसे फोटो शायरी

आंसू बहाना फोटो शायरी

इश्क तुमसे किया, जमाने का सितम सहा
फिर भी तुम दूर हो हमसे, ये जताऊं कैसे

Advertisements

दर्द होठों से छलकते हैं मगर खामोशी उसे दबा लेती है। ये आवाज तुम तक कैसे पहुंचेगी, यही सोचता रहता हूं।

Advertisements

Leave a Reply