फोटो शायरी – गूंज न पाई मेरी आहें मरते दम तक

red prev shayari pic red next

जख्म गम की शायरी फोटो
जो तसव्वुर में आया हमनफस बनकर
वो कभी रू ब रू न था मरते दम तक
Advertisements

Leave a Reply