इश्क में आशिक का खयाल फोटो शायरी

इश्क आशिक फोटो शायरी

मैंने अपनों को ये वसीयत दे रखी है
कि आप आएं मुझे कांधा देने के लिए

Advertisements

आशिक का दर्द कौन समझता है। सारी दुनिया और अपने लोग उसके खिलाफ हो जाते हैं और मौका पड़ने पर वह भी दगा दे जाती है।

Advertisements

Leave a Reply