दर्द मिलता है गम ए फिराक फोटो शायरी

दर्द गम ए फिराक फोटो शायरी

दर्द मिलता है गम ए फिराक के मंजर में
जुदाई में चांद सितारों के संग जीकर जाना

हुस्न और इश्क को जबसे जाना, ये दिल तबसे हुआ ऐसा दीवाना कि न अपनी खबर है न जमाने की। बस तुझसे जुदाई का अहसास है।

Leave a Reply