अच्छा दिल सच्ची ईमेज शायरी

अच्छा दिल ईमेज शायरी

एक मुकम्मल इंसां बनना तन्हाई की मंजिल है
अधूरे लोगों के दलदल में जीना अब नामुमकिन है

जिंदगी का अधूरापन अच्छा नहीं लगता, मेरा प्यार तुझे सच्चा नहीं लगता। ऐसे हालात में मैं क्या बोलूं, अपने सच्चे दिल का राज कैसे खोलूं।

Leave a Reply