मेरी दुनिया में बेखुदी थी शायरी फोटो

बेखुदी में इश्क फोटो शायरी

मेरी दुनिया में बेखुदी थी मगर मैं न था
खबर थी कि जिंदा हूं पर मरता चला गया

Advertisements

तेरी राहों का मुसाफिर हूं मैं, तेरा आशिक हूं ये भी जाहिर है हूं मैं। अब तेरी रजा का इंतजार है वरना जिंदगी से ये दिल बेजार है।

Advertisements

Leave a Reply