मेरी दुनिया में बेखुदी थी शायरी फोटो

बेखुदी में इश्क फोटो शायरी

मेरी दुनिया में बेखुदी थी मगर मैं न था
खबर थी कि जिंदा हूं पर मरता चला गया

तेरी राहों का मुसाफिर हूं मैं, तेरा आशिक हूं ये भी जाहिर है हूं मैं। अब तेरी रजा का इंतजार है वरना जिंदगी से ये दिल बेजार है।

Leave a Reply