ये हसीं नजारे सबकी नजर को फोटो शायरी

हंसी नजारा फोटो शायरी

बाजार की भीड़ में हैं जगमगाते जिस्म बहुत
ये हसीं नजारे सबकी नजर को अंधा कर गए

Advertisements

शहर की जिंदगी में प्यार कहां, लोगों को एक दूजे पर यहां ऐतबार कहां। तू कैसे मिलगी मुझे ऐ जानेजा, मोहब्बत की टूटती है यहां दीवार कहां।

Advertisements

Leave a Reply