हिंदी शायरी फोटोज

फोटो शायरी – तेरे बिन कैद में सुकूं से बसर हो न सका

मैं भी एक आशियां में बंद हूं तुम्हारी तरह तेरे बिन कैद में सुकूं से बसर हो न सका इतनी बेचैनी है, रूह निकल न जाए कहीं हिज्र में मौत से भी मेरा मिलन हो न सका

red prev shayari pic red next shayari image

इश्क की जुदाई शायरी ईमेज
इतनी बेचैनी है, रूह निकल न जाए कहीं
हिज्र में मौत से भी मेरा मिलन हो न सका
Advertisements

Leave a Reply