शहर में चिड़िया भटकती रही शायरी फोटो

इश्क समंदर शायरी फोटो

शहर में चिड़िया भटकती रही तन्हा-तन्हा
इस जंगल में उसे नशेमन भला क्या मिलता

रेतों की जिंदगी में समंदर है तो सही मगर रेत फिर भी प्यासी रह जाती है। जैसे तू मेरी जिंदगी में आया तो सही लेकिन मैं तेरे प्यार की प्यासी रहती हूं।

Leave a Reply