रात में खामोशी की शायरी ईमेज

लव की खामोशी शायरी ईमेज

हर सिलसिला रूका रहे, हर जलजला थमा रहे
ठहरी-अंधेरी रात में खामोशी की झनकार हो

खामोश रात में चांद की तन्हाई, सितारों संग जल रहा दिल और लगातार हो रही इश्क की बारिश। आशिक कैसे सोएगा आज की रात।

Leave a Reply