सात साल बाद फिर उसको मेरी प्रेम कहानी याद आई

फेसबुक पर मैंने अपने बेटे की फोटो डाली ही थी कि अचानक कमेंट बॉक्स में किसी ने कुछ ऐसा लिखा जिसे देखकर मैं चौंक गया। किसी निम्मी शर्मा ने लिखा – ‘बहुत खूबसूरत है तुम्हारा बेटा’। निम्मी नाम तो जाना पहचाना सा लग रहा था लेकिन दुनिया में न जाने कितनी निम्मियां हैं, पता नहीं कौन है? लेकिन निम्मी नाम से मेरा पुराना नाता था। मैंने उस दिन इस बारे में ज्यादा नहीं सोचा।

बात आई गई हो गई। लेकिन अगले दिन जब मैंने अपनी फोटो फेसबुक पर डाली तो फिर उसी का कमेंट आया- ‘कैसे हो तुम – निम्मी रानी’। उसने अपना असली नाम लिख दिया था। निम्मी रानी शादी के बाद निम्मी शर्मा हो गई थी। अचानक पुराने जख्म उभर आए। सर भारी होने लगा। दिल पर बोझ सा बढ़ने लगा। ओह ये तो वही निम्मी है लेकिन शादी के सात साल बाद अचानक इसको क्या हो गया। मैंने झट से कमेंट डिलीट किया ताकि मेरी बीवी और रिश्तेदार न देख ले। बीवी देख लेगी तो मेरा तो जीना ही मुश्किल कर देगी।

हालांकि सात साल पहले मैंने जब शादी की थी तब अपनी बीवी को निम्मी के बारे में बता दिया था। अगर न बताता तो भी वो जान ही जाती। मेरे सारे रिश्तेदार निम्मी के बारे में सबकुछ जानते हैं। वो जानते हैं कि निम्मी से दस सालों तक मैंने किस तरह टूटकर प्यार किया। मेरी निम्मी के बीच दोस्ती और झगड़ों का हर वाकया उनको मालूम है। लेकिन निम्मी ने आखिरकार किसी और शादी कर ली। उसे क्या चाहिए था ये मैं नहीं जानता। उसने मुझे क्यों छोड़ दिया, ये भी मैं नहीं जानता। मैंने उसे मनाने की लाखों बार कोशिश की लेकिन हार गया। उसने शादी कर ली तो उसके बाद मैंने भी घर बसा लिया। और चारा ही क्या था? उसके पीछे कहां तक भागता? शायद थक चुका था।

शादी के बाद मेरी दीवानगी की बातें मेरी बीवी तक बात पहुंचती, उससे पहले ही मैंने निम्मी से प्रेम की बात उसे बता डाली। ये भी यकीन दिलाने की कोशिश की कि मैं अब उससे प्यार नहीं करता लेकिन उसे यकीन नहीं हुआ। और इसका खामियाजा मैं सात साल से भुगत रहा हूं। मेरी बीवी को हमेशा शक रहता है कि कहीं मैं किसी के प्रेम में न पड़ जाऊं, कहीं फिर से निम्मी के पास न चला जाऊं। बहुत समझाता हूं मगर फिर उसके दिमाग में यही बात घूमने लगती है। निम्मी, निम्मी।

और क्या मैं निम्मी को भूल चुका हूं? इस सवाल का जवाब मेरे पास भी नहीं है। सात साल बाद अचानक फेसबुक पर निम्मी का कमेंट देख मैं सकते में आ गया। अब क्या किया जाय? ये मेरा बसाया घर उजाड़ देगी। इसने दस सालों तक मुझे तबाह ओ बरबाद किया। गुस्से में मैं सोचने लगा। सोचा कि उससे मिलूं और कहूं कि अब बरबाद करने को बचा क्या है जो फिर से मेरा हाल पूछ रही है।

इन सात सालों में निम्मी एक बेटा और एक बेटी की मां बन चुकी है। मैं भी एक बेटा बेटी का बाप। दोनों का अपना अपना घर है, अपना अपना शहर है। हां कभी हम एक शहर में रहते थे। बहुत सालों तक रहे। प्यार किया। लेकिन शादी के सात साल बाद फिर उस प्यार को याद करके मैं डर गया। सोचा उसके फेसबुक प्रोफाइल को ब्लॉक कर दूं। लेकिन कर न सका।

शायद निम्मी आज अकेली है। पति से शायद उसे प्यार नहीं मिल रहा या कुछ और वजह। मैं वजहों को खोजने के बहाने निम्मी के बारे में सोच रहा हूं। एक ठहरे हुए पानी में उसने कंकड़ मार दिया था। इस निम्मी का क्या करूं? सोचता हूं कि एक बार मिल कर समझाऊंगा। उसको बताऊंगा कि फेसबुक पर इस तरह लिखने से मेरी जिंदगी तबाह हो सकती है। उसके पति को पता चलेगा तो वो भी बरबाद हो जाएगी। और मैं किसी भी हालात में निम्मी का नुकसान नहीं चाहता। सात साल पहले जब उसने मुझे ठुकराया था तब भी यही सोचा था कि शायद इसी में उसका भला हो।

मैं ये सब सोच ही रहा था कि मेरी बीवी आकर पूछने लगी – किसी निम्मी शर्मा ने मुझे फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा है…..।

(ये कहानी नहीं…सच्ची घटना है…सिर्फ पात्रों के नाम बदल दिए गए हैं। अगर आपके पास भी कोई ऐसी घटना हो तो admin@jazbat.com पर हमें लिख भेजें।)

Advertisements

One thought on “सात साल बाद फिर उसको मेरी प्रेम कहानी याद आई”

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.