love story

प्यार और शादी से पहले फिजिकल रिलेशन – दो प्रेम कहानियां

मैं जिसे लव करती हूं वो मेरी कास्ट का नहीं है। वो मेरे गांव का है। वो चाहता है कि मैं उसके साथ फिजिकल रिलेशन बनाऊं।

आज एक साथ दो सच्ची प्रेम कहानियां हैं। पहली कहानी दिल्ली से एक लवर ने भेजी हैं और दूसरी कहानी जबलपुर से है। ये दोनों कहानी एक दूसरे से जुड़ी हैं। पहली कहानी में सवाल है और दूसरी कहानी में उसका एक जवाब है। आप भी अपने कमेंट्स दे सकते हैं।

two real love story

पहली कहानी – दिल्ली से
मैं जिसे लव करती हूं वो मेरी कास्ट का नहीं है। वो मेरे गांव का है। वो चाहता है कि मैं उसके साथ फिजिकल रिलेशन बनाऊं। पर मैं ऐसा नहीं कर सकती। शादी से पहले मुझे ये सब पसंद नहीं।

अब वो मेरे साथ भी बात भी नहीं करता। वो बोलता है कि अगर मेरी बात मानोगी तभी बात करूंगा। एक तरफ घरवाले हैं और दूसरी तरफ वो है।

मैं क्या करूं? पत नहीं क्यूं कभी कभी लगता है जैसे वो मुझे समझता ही नहीं। अगर मैं उसकी बात मानती हूं तो मैं दुबारा जिंदगीभर उससे बात नहीं कर पाऊंगी।

अगर उसकी बात नहीं मानती तो वो खुद बात नहीं करता। मैं क्या करूं? उसकी बात मानूं या नहीं? क्या मुझे मेरा प्यार कभी नहीं मिलेगा?
——-
——-
दूसरी कहानी – जबलपुर से

मेरी मुलाकात एक लड़के से 2011 में हुई थी। उस वक्त मैं 15 साल की थी। उसने मुझे यकीन दिलाया कि वो मुझसे बहुत प्यार करता है। मैं भी उससे बहुत प्यार करती थी। उसे हमेशा मेरी फोटो खींचने का शौक था।

एक दिन उसने मुझे अपने घर बुलाया। जब मैं गई तो उस वक्त उसके घर पर कोई नहीं था। उसने मेरे साथ संबंध बनाया और मुझे उस पर बहुत यकीन था, इसलिए बेफिक्र थी। उसने मुझे पता भी नहीं चलने दिया कि वो मेरा एमएमएस बना रहा है।

कुछ महीनों बाद जब हम दोनों के बीच लड़ाई हुई तो उसने मुझे एमएमएस दिखाकर धमकी दी और ब्लैकमेल करने लगा। उसकी हर बात मानने के लिए मैं मजबूर हो गई। वो मुझे यूज करने लगा। जब 2015 में मेरे चचेरे भाई की शादी थी और मैं वहां थी तो उसने मुझे फोनकर बुलाया।

मैंने मना किया। मैंने कहा कि मैं दूर हूं, अभी नहीं आ सकती। पर वह नहीं माना। मैंने गुस्से में मना कर दिया तो उसने मेरा एमएमएस पूरे शहर, मेरे मोहल्ले में वायरल कर दिया।

उसकी और भी गर्लफ्रेंड थी। मेरे बाद उसने एक और गर्लफ्रेंड का एमएमएस भी वायरल किया। मेरी लाइफ खत्म हो गई। पर मेरे पापा ने मुझे जीना सिखाया। मेरे पापा ने मुझे सहारा दिया। उस लड़के को जेल की सजा हुई लेकिन तीन महीने बाद ही वो बाहर निकल आया। पैसों के बल पर वह जेल से छूट गया। आज दोस्तों, मेरी लाइफ खत्म हो गई पर जी रही हूं मैं।

मैंने अपनी कहानी इसलिए बताई है ताकि लड़कियों को सबक मिले कि लव करो लेकिन कभी यूज मत होना।

Advertisements

Leave a Reply