मेरठ से आर्नब की रियल लव स्टोरी – love story of Aarnab from Merrut

मेरा नाम आर्नब है। मैं मेरठ से हूं और वो इलाहाबाद से। उसके चाचा जॉब करते थे। मेरठ में वो अपने चाचा के यहां आई थी।

हम लोग एक घर में रहते थे रेंट पर। हमारा एक घर दिल्ली में भी है। मैं दिल्ली से उस टाइम मेरठ आया था मम्मी पापा के पास। 2010 की बात है।

meerut love story
——
उसकी तबियत खराब थी तो मैंने उसकी थोड़ी सी केयर की। इससे हमारी जान पहचान हो गई। फिर वो अपने घर वापस चली गई।

फोन पर हमारी डेली बात होती थी। मैं उससे पहली नजर में ही प्यार कर बैठा। 2012 में मैंने उसे प्रपोज कर दिया। 1 साल बाद उसने एक्सेप्ट भी कर लिया।
——–
हमलोग शादी करना चाहते थे। मेरी पूरी फैमिली को हमारी लव स्टोरी का पता था। मुझे लव मैरिज की परमिशन थी तो मैंने किसी से छुपाया नहीं। 1 जनवरी 2016 को उसने अपने पापा से बात की हमारे बारे में।

उसके पापा ने कहा कि ठीक है, हम मिलेंगे और लड़का पसंद आया तो शादी कर देंगे। मैं अभी एम ए फाइनल कर रहा हूं। हमारी बात नॉर्मल चल रही थी।
—–
एक दिन मैंने उसके पापा को कॉल किया और पूछा कि अंकल, आप कब आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जल्दी ही आते हैं। उसके पापा सरकारी टीचर हैं। तो वो बोले कि बोर्ड का एग्जाम खत्म हो जाए तब आएंगे।

मैंने बोर्ड के एग्जाम के बाद 1 अप्रैल को उसके पापा को कॉल किया तो वे बोले कि 22 अप्रैल को उसकी शादी है। मैं चौंक गया।
——-
मैंने उसको फोन मिलाया और कहा कि तुम्हारी तो शादी हो रही है तो उसने कहा कि मुझे तो अपनी शादी के बारे में कुछ नहीं पता। वो बोली कि मुझे आकर यहां से ले जाओ।

वो अपने मां-बाप की अकेली बेटी है तो मैंने उसे घर से भगाना ठीक नहीं समझा। मैंने कहा कि अपने पैरेंट्स से बात करो लेकिन वह नहीं कर पाई। इसी बीच उसकी शादी का कार्ड बंट गया और उसने कहा कि शादी हो जाने दो अब।
——–
उसने कहा कि मैं शादी के बाद आ जाऊंगी। उसकी शादी हो गई और उसने अपने पति को सब बता दिया कि उसने शादी मजबूरी में की है। वो लड़का भी समझ गया कि उसकी बीवी ने किसी से प्यार किया है।

वो शादी के बाद अपने घर चली आई और ससुराल नहीं गई। मैं आज भी उसका इंतजार कर रहा हूं।
——-
हम लोगों की कास्ट भी सेम है। ब्राह्मण हैं हम लोग। उसकी शादी को 8 महीने हो गए हैं। वो अभी भी अपने घर पर है। वो ऐसी जगह से है जहां आज भी लोग पुराने रीति रिवाज मानते हैं। उसके पति ने आज तक कभी उसे कॉल या मैसेज नहीं किया है। हम लोग अभी भी पहले के जैसे बात करते हैं।

एक दूसरे के बिना खुश नहीं रह सकते। वो बोलती है कि अगर उसे ससुराल जबर्दस्ती भेजा गया तो वो सुसाइड कर लेगी। अगर उसे कुछ हुआ तो मैं भी नहीं जी पाऊंगा।

उसके पापा ने उसकी शादी बिना उसकी जानकारी के फिक्स कर दी, जबकि उन्होंने बेटी से कहा था कि वो उसकी शादी मेरे साथ करेंगे। उसके पापा ने मुझसे भी कहा कि बेटा, मैं शादी के सिलसिले में कॉल करुंगा।

लेकिन उन्होंने मुझे कॉल पर उसकी शादी होने की खबर दी। उसके पापा ने बेटी को भी धोखा दिया और मुझसे भी झूठ बोला।

Advertisements

Leave a Reply